Adsense responsive

बुधवार, 25 अक्तूबर 2017

कुछ शुभ अशुभ संकेत


 कुछ चीज़े ऎसी होती हैं जो शुभ और अशुभ का संकेत देती हैं जैसे घर से बाहर निकलते वक़्त यदि बिल्ली रास्ता काट जाए तो काम सफल नही होता हैं, वेसे ही कही सारी बातें ऎसी भी हैं जो शुभ समाचार का संकेत देती हैं तो आइए जानते हैं कुछ शुभ अशुभ बातों के बारे मे। 


नाल :-
शनिवार के दिन सडक पर काले घोडे की नाल मिले तो उसकी अंगुठी बनवाकर धारण करने पर शनि का प्रकोप कम हो जाता है। इस प्रकार की नाल को अपने घर के दरवाजे के ऊपर मध्य में लगा देना शुभ माना गया है। शकुन शास्त्रानुसार ऎसे घर में लक्ष्मी सदा विराजती है।

यज्ञोपवीत :-
यदि यज्ञोपवीत धारण कर रखा है तो नियमों का पालन करें। नहीं करते हैं तो उतारकर कुएं में डाल दे। नियम पालन न करते हुए यज्ञोपवीत का धारण करना अशुभ फल देता है।

लंगूर :-
काले मुंहवाला लंगूर सुबह-सुबह दिखना अशुभ कहा गया है। ऎसा बन्दर दिखाई पडे और कोई शुभ कार्य करना हो तो गंगाजल छिडक लें। अशुभ न होगा।

अंडा :-
घर से बाहर निकलते समय अंडा दिखने कार्य के लिए जाना है , वह सफल होता है। मार्ग में कुछ दूरी पर फुटा अंडा या छिलके मिलें या दिखें तो कार्य न बनना और कार्य में असफलता का संकेत है।

अग्नि :-
घर से बाहर निकलतक ही अग्नि दिखाई पडे तो कार्य सर्वोत्तम ढंग से सफल होने का शकुन है। लेकिन अंगारे मात्र दिखना अपशकुन है।

अपान वायु :-
घर से बाहर कदम रखते ही अपान वायु का निकलना अच्छा शकुन है , और यह कार्य लाभ का लक्षण है । किसी का हंस पडना या मुस्करा देना इस फल को नष्ट कर देता है । ऎसा कहा गया है ।

कटहल :-
मार्ग में कोई कटहल ले जाता दिखे तो शुभ शकुन माना गया है। पर वह कटहल कटा हुआ नहीं होना चहिए।

चिडिया :-
चिडिया की बीट सिर पर गिरना शुभ पर कबूतर की बीट गिरना अशुभ माना गया है

नाग :-
नाग मारना अशुभ है। नाग का जोडा देखना शुभ है। उसी समय दूर जाना भी शुभ है। अधिक देर रूकने पर खतरा है। जोडा सांपों को देखते ही तत्काल भाग जाने की बात शकुन शास्त्र में भी कही गई है।

नागशुद्धि :-
फलित ज्योतिष के अनुसार नया घर या मकान बनवाने में नागों की स्थिति पर विचार किया जाता है। कहा जाता है कि भादों, क्वार, कार्तिक इन तीन महीनों में नागों का सिर पूरब की ओर अगहन, पूस तथा माघ में दक्षिण की ओर फाल्गुन चैत्र , बैशाख में पश्चिम की ओर जेठ , आषाढ, सावन में उत्तर की ओर रहता है । आरम्भ में नींव डालते समय यदि नागों के मस्तक पर आघात पडा तो मकान बनवाने वाले की मृत्यु हो जाती है। पेट पर आघात पडना शुभ समझा जाता है।

सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें