Adsense responsive

सोमवार, 21 नवंबर 2016

शकुन शास्त्र- जानिए गाय से जुड़े शकुन-अपशकुन

Interesting Facts
भविष्य में होने वाली घटनाओं को कई माध्यमों से जाना जा सकता है। जिसमें से एक महत्वपूर्ण और सरल माध्यम होता है पशु-पक्षी। गाय भी उनमें से एक है। गाय हिंदू धर्म में पूजनीय हैं। शकुन शास्त्र के अनुसार, सफर पर जाते समय गाय अपनी हरकतों से हमें भविष्य में होने वाली घटनाओं के संकेत देती हैं। हालांकि अब शहरों में गाय पालने जैसे काम हो नहीं पाते हैं या गाय का दिखना भी मुश्किल होता है, ऐसे में ये संकेत कारगर नहीं लगते, ऋषियों द्वारा ये संकेत तब बताए गए थे जब परिस्थितियां बहुत अलग थीं। फिर भी अगर हमें सफर पर निकलते समय गाय दिखती है, तो उससे हम कुछ बातों का अंदाजा लगा सकते हैं।



जानिए गाय से जुड़े कुछ शकुन व अपशकुन के बारे में –

1. सफर करते समय यदि बांई ओर से गाय की आवाज सुनाई दे तो यह शुभ माना जाता है।

2. रात के समय अगर गाय हुंकार भरती या पुकारती है, तो यह ही शुभ शकुन माना जाता है।

3. इसके उलट अगर किसी को गाय आधी रात में रंभाती या रोती हुई दिखाई दे, तो सफर में डराने वाली परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है।


Shakun 

4. यात्रा पर जा रहे व्यक्ति को गाय अपने खुरों से जमीन खुरचती दिखाई दे तो आने वाले समय में उसे बीमारी का सामना करना पड़ सकता है।

5. अगर यात्रा पर जाते समय गाय रोती हुई दिखाई दे, तो यात्री को मृत्यु के समान कष्ट होने की आशंका रहती है।


6. यात्री को गाय अपने बछड़े से मिलने के लिए रंभाती दिखाई दे, तो उसकी सभी इच्छाएं पूरी होने के योग बनते हैं।

7. जब गाय के ऊपर बहुत सारी मक्खियां बैठी हुई दिखाई दें, तो अच्छी वर्षा होने की संभावना मानी जाती है।

vastu
8. यात्रा करते समय यदि किसी व्यक्ति को दोनों ओर भैंस दिखाई दे, तो यात्री की मृत्यु होने का भय रहता है।

9. यदि किसी व्यक्ति को सांड अपनी बांई ओर से दाहिना ओर जाता हुआ दिखाई दे तो यह शुभ शकुन माना जाता है।

10. यदि किसी व्यक्ति को यात्रा पर जाते समय सांड अपने सींग या खुर से जमीन खोदता हुआ दिखाई दे तो यह भी शुभ शकुन माना जाता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें