Adsense responsive

मंगलवार, 11 अक्तूबर 2016

दशहरे पर करें अचूक उपाय, मिलेगी शोहरत, बरसेगा पैसा



विजयादशमी के दिन से शुरू करते हुए लगातार 43 दिन तक बेसन के लड्डू कुत्ते को खिलाने चाहिए इससे धन लाभ के योग बनते है और धन में बरकत होने लगती है अर्थात घर कारोबार में धन रुकना भी शुरू हो जाता है।
नागकेसर भगवान शिव को बहुत ही प्रिय है और तन्त्र शास्त्र में भी इसका बहुत ही ज्यादा महत्व है। 

विजयदशमी के दिन नागकेसर का पौधा लाएं और नियमपूर्वक उसकी देखभाल करें। जैसे-जैसे यह पौधा बढ़ता जायेगा आपकी भी उन्नति होती जाएगी।विजयादशमी के दिन किसी भी धार्मिक स्थान में अपनी मनोकामना कहते हुए गुप्तदान अवश्य ही करें इससे कार्यों में अड़चने दूर होती है, समाज में मान सम्मान की प्राप्ति होती है। विजयादशमी के दिन सवा किलो जलेबी और पांच अलग-अलग मिठाई भैरव नाथ जी के मंदिर पर चढ़ाकर धूप, दीप जलाएं और उनसे अपने जीवन के संकटों को दूर करते हुए सभी क्षेत्रों में सफलता का आशीर्वाद मांगे फिर उसके बाद उसमें थोड़ी सी जलेबी लेकर कुत्ते को खिला दें। इससे सभी तरह की अड़चनें, बुरी नज़र का प्रभाव दूर होता है और कार्यों में आशातीत सफलता मिलनी शुरू हो जाती है।शास्त्रों के अनुसार इस दिन नीलकंठ पक्षी का दर्शन करना अत्यंत शुभ माना जाता है।


दशहरे के दिन शमी पूजन करने से आरोग्य व धन की प्राप्त होती है। दशहरे पर शमी के वृक्ष की पूजन परंपरा हमारे यहां प्राचीन समय से चली आ रही है। ऎसी मान्यता है कि मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान श्रीराम ने लंका पर आक्रमण करने के पूर्व शमी वृक्ष के सामने शीश नवाकर अपनी विजय के लिए प्रार्थना की थी। विजयादशमी के दिन संध्या के समय ” ॐ अपराजितायै नमः ॥ ” की कम से कम 5 माला का जप करें। उसके पश्चात हनुमान जी का सिद्ध मन्त्र “ॐ हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट्” ॥ की भी कम से कम दो माला का जप करें। इससे जीवन में दृढ़ता और शक्ति प्राप्त होती है। मनोबल ऊँचा रहता है शत्रु शांत हो जाते है, उसको हर जगह विजय की प्राप्ति होती है।विजयादशमी के दिन छोटी-छोटी पर्चियों पर ‘राम’ नाम लिख कर उसे अलग अलग आटे की लोई में रखकर मछलियों को खिलाएं, इससे भगवान राजा राम की कृपा से जातक को जीवन में सभी सुख और ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है। सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें