Adsense responsive

मंगलवार, 13 सितंबर 2016

Find it at the main entrance, will house the arrival of prosperity



Find it at the main entrance, will house the arrival of prosperity




हर कोई चाहता है कि अपने घर में सुख-शांति और समृद्धि का वास हो। इसके लिए दिन रात वे कडी मेहनत करते है और कई प्रकार के नियमों का पालन करते है। कई लोगों को ये सब करने बावजूद भी कोई सफलता नहीं मिलती। आज आपको यह बताने जा रहे है कि आप अपने घर में कैसे सुख-समृद्धि आ सकते है। शास्त्रों के मुताबिक घर के मुख्य द्वार पर शुभ धार्मिक चिन्ह बनाने से सुख-समृद्धि का आगमन होता है। इसके अतिरिक्त वास्तु के अनुसार कुछ ऐसे चिन्हों का उल्लेख किया गया है जो घर की सारी चिंताओं से मुक्ति दिलाने में सहायता करते हैं। घर के मुख्य द्वार पर स्वस्तिक, ऊँ, श्रीगणेश, शुभ-लाभ आदि चिन्हों को बनाने से घर में सुख-शांति और समृद्धि बनी रहती है।




1. घर में सदैव सुख-समृद्धि बनी रहे इसके लिए मुख्यद्वार पर स्वस्तिक का चिन्ह बनाएं। इसके साथ शुभ-लाभ का चिह्न बनाना धनात्मक ऊर्जा का सूचक है।




2. स्वस्तिक का चिह्न बनाने से नकारात्मक ऊर्जा का नाश होता है इसलिए प्रत्येक त्यौहार पर घर के मुख्यद्वार पर सिंदूर से शुभ-लाभ का चिन्ह बनाया जाता है।




3. घर में सदैव गणेशजी की कृपा बनी रहे और धन में बढ़ोतरी होती रहे इसके लिए घर के मुख्यद्वार पर श्रीगणेश का चित्रपट एवं स्वस्तिक या अपने धर्मानुसार कोई भी शुभ या मंगल चिह्न अवश्य बनाएं।




4. घर का मुख्यद्वार दक्षिण मुखी हो तो दरवाजे पर पंचमुखी हनुमानजी का चित्रपट लगाना शुभ होता है।




5. घर के मेन गेट के सामने पौधा या वृक्ष होना शुभ नहीं होता। ये पारिवारिक सदस्यों की खुशियों के आगमन में अवरुद्ध पैदा करते हैं।




6. घर का मुख्य द्वार या अन्य खिडक़ी-दरवाजे खोलते समय आवाज न करें। आवाज करने वाले द्वार शुभ नहीं माने जाते। इससे घर में क्लेश रहता है। सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें