Adsense responsive

शुक्रवार, 1 अप्रैल 2016

साधुओं की धुनी से जुड़े कुछ रोचक तथ्य


साधुओं की धुनी से जुड़े कुछ रोचक तथ्य






साधुओं से जुड़ी कई ऐसी चीजें हैं जो हमेशा लोगों के आकर्षण का केंद्र रहती हैं जैसे- साधुओं द्वारा जलाई गई धुनी। ये धुनी साधुओं की जीवन शैली का अभिन्न अंग है। इससे जुड़े कई तथ्य हैं जो आम लोग नहीं जानते। आज हम आपको साधुओं की धुनी के बारे में कुछ खास बातें बता रहे हैं-



1. किसी भी साधु द्वारा जलाई गई धुनी कोई साधारण चीज़ नहीं होती है। इसे सिद्ध मंत्रो से शुभ मुहूर्त में जलाया जाता है।


2. कोई भी साधु धुनी अकेले नहीं जला सकता। इसके लिए उसके गुरु का होना जरुरी होता है।

3. धुनी हमेशा जलती रहे, यह जिम्मेदारी उसी साधु की होती है। इस कारण उसे हमेशा धुनी के आसपास रहना पड़ता है।

4. अगर किसी कारण साधु कहीं जाता है तो उस समय धुनी के पास उसका कोई सेवक या शिष्य रहता है।



5. साधुओं के पास जो चिमटा होता है, वह वास्तव में धुनी की सेवा के लिए होता है। उस चिमटे का कोई और उपयोग नहीं किया जाता है।


6. ऐसी मान्यता साधु धुनी के पास बैठकर कोई बात कहता है, कोई आशीर्वाद देता है तो वह जरूर पूरा होता है।

7. नागा साधु जब यात्रा पर जाते है, तब धुनी नहीं होती, लेकिन जैसे ही कहीं डेरा जमाते है, वहां सबसे पहले धुनी जलाते है।सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें