Adsense responsive

मंगलवार, 1 मार्च 2016

आंखें देखकर जानिए, क्या है उनके ख्वाबों में.


आंखें देखकर जानिए, क्या है उनके ख्वाबों में.




कहा जाता है कि आंखें देखकर आदमी की फितरत और हकीकत का पता लग जाता है। ज्योतिष में भी आंखों का उपयोग किसी व्यक्ति का स्वभाव, भूत और भविष्य तथा उसके अर्न्तमन की बात जानने में किया जाता है। आइए जानते हैं ज्योतिष से जुड़ी ऐसी ही कुछ बातें, जिनसे आप भी खुद की तथा दूसरों से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें बड़ी आसानी से जान सकते हैं.



आंखों का रंग भी है महत्वपूर्ण

ज्योतिष में काली तथा नीली आंखें जहां सुंदरता का प्रतीक मानी जाती हैं वहीं भूरी आंख वालों को चालाक माना जाता है। इसके साथ ही अगर उसकी आंखों से शरारत भी झलकती हो तो ऐसे लोगों से दूर रहने में ही भलाई होती है। भूरी आंखें तेज-तर्रार होने की निशानी बताती है।


पीली आंखें बताती है दुर्भाग्य

ज्योतिष के साथ-साथ डॉक्टरों के अनुसार भी पीली आंखें होना किसी भी व्यक्ति के बीमार होने की निशानी है। आम तौर पर आदमी की आंखों का रंग पीला तभी होता है जब उसका शरीर बीमार हो या उसे बहुत ज्यादा तनाव का सामना करना पड़ रहा हो। ज्योतिष में माना जाता है कि पीली आंखों वाले व्यक्ति का दुर्भाग्य जाग उठा है तथा उसका बुरा समय आने वाला है।


गहराई लिए आंखें

जिन लोगों की आंखों में गहराई होती हैं उन्हें देखने पर ऐसा लगता है मानो किसी गहरे ध्यान में हो। ऐसी आंखें बहुत कम देखने को मिलती है। आम तौर पर ऐसी आंखें या तो धार्मिक गुरुओं की होती है या बहुत ही बड़े कूटनीतिज्ञों की। ऐसे लोग स्वभाव से बहुत ही शांत, गंभीर तथा विचारमग्न होते हैं। साथ ही साथ इनका दिमाग बहुत रचनाशील होता है जिससे इन्हें सहज ही किसी भी समस्या का समाधान मिल जाता है।



नशीली आंखें

यूं तो नशीली आंखों को बड़ा ही रोमांटिक माना जाता है परन्तु ऐसा बहुत कम होता है। आमतौर पर ऐसे लोग बिना नशा किए भी नशे में प्रतीत होते हैं। स्वभाव से चालाक तथा हरसंभव तरीके से अपनी बात मनवाने वाले होते हैं। देखने में भले ही ये आकर्षक और सुंदर हो परन्तु इनकी दोस्ती खतरे से खाली नहीं होती।




मृगनयनी आंखें

हिरणी जैसी चंचल और खूबसूरत आंखों वाली कन्याओं को ही मृगनयनी कहा जाता है। इनका रंग भूरा या नीला होता है। ये सुंदर, आकर्षक, दयालु होती हैं। भाग्य भी इनका हरकदम पर साथ देता है।

झुकी हुई भौहें

जिन लोगों की भौहें झुकी हुई होती है, वे साधारण जीवन जीने वाले होते हैं। उनकी कोई बड़ी महत्वाकांक्षा नहीं होती और न ही ही वे ज्यादा बड़े स्वप्न देखते हैं। ये संतोषी स्वभाव के होते हैं तथा जो मिलता है उसी में गुजारा करते हैं।

गहरी भौहें

ऐसी भौहें आमतौर पर पुरुषों में ही देखने को मिलती है परन्तु कुछ स्त्रियों में भी ऐसी भौहें देखी जा सकती है। ये लोग स्वभाव से ही कूटनीतिज्ञ तथा राजनीतिज्ञ होते हैं। ये आजीवन सुख, संपत्ति का भोग करते हैं।

धनुषाकार भौहें

जिसकी भौहें धनुषाकार होती हैं अर्थात नाक के समीप से उठकर कनपटी की ओर जाते हुए धनुष की शेप बनाती है, वे सौभाग्यशाली, अच्छे स्वभाव वाले होते है। स्वभाव से बहादुर होने के साथ-साथ ये जरूरत पड़ने पर दूसरों की सहायता के लिए भी तैयार रहते हैं।


सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें