Adsense responsive

रविवार, 20 मार्च 2016

इन 5 जगहें जूते-चप्पल पहन कर जाने से बढ़ता है दुर्भाग्य



इन 5 जगहें जूते-चप्पल पहन कर जाने से बढ़ता है दुर्भाग्य





शास्त्रों में 5 ऐसी जगहों के बारे में बताया गया है, जो कि बहुत ही पवित्र मानी जाती है। उन जगहों पर जूते-चप्प्ल पहनकर जाना बड़ा अशुभ माना जाता है। ऐसा करने से हमें दुःखों और परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए ध्यान रखें इन 5 जगह पर जाते समय जूते या चप्पल न पहनें।


तिजोरी के पास



तिजोरी से सामान रखते या निकालते समय भी जूते-चप्पल उतार देने चाहिए। इस बात का ध्यान रखने से देवी लक्ष्मी की कृपा हमेशा बानी रहती है।

भंडार घर



भंडार घर में जूते-चप्पल का प्रयोग नहीं करना चाहिए। जो व्यक्ति इस बात का ध्यान रखता है उसके घर में कभी भी अन्न की कमी नहीं होती।



रसोई घर



अन्न और अग्नि दोनों को ही देव-तुल्य माना जाता है। इसलिए, रसोई घर में जाते समय जूते-चप्पल पहनना गलत माना जाता है। ऐसा करने से अन्न और अग्नि हमसे रूठ जाते है।
पवित्र नदी



पवित्र नदियों में स्नान करने से पहले जूते-चप्पल या चमड़े से बनी वस्तुएं उतार देनी चाहिए। जूते-चप्पल के साथ नदी में प्रवेश करना पाप माना जाता है।
मंदिर


मंदिर में जूते-चप्पल पहन कर जाने से देवी-देवता रुठ जाते है। इसलिए भूलकर भी मंदिर में जूते-चप्पल से प्रवेश नहीं करना चाहिए।


सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें