Adsense responsive

शुक्रवार, 11 मार्च 2016

सौभाग्य चाहिए तो भूल कर भी न करें ये 5 गलतियां


सौभाग्य चाहिए तो भूल कर भी न करें ये 5 गलतियां



प्राचीन शास्त्रों में कई ऐसी बातें बताई गई हैं जिनकी पालना करके हम एक सुखद और सौभाग्यशाली भविष्य का सपना देख सकते हैं। ये बातें जहां एक और हमें बुरे समय के दौरान आध्यात्मिक तथा दैवीय सहायता प्रदान करती हैं वहीं हमारे अच्छे व सुखद भविष्य की भी नींव रखती हैं।

अपने बाथरूम को साफ-सुथरा रखें

बाथरुम को चन्द्रमा का स्थान माना गया है। जिन घरों में बाथरूम गंदा रहता है या अस्त-व्यस्त पड़ा रहता है, उन घरों के स्वामी की कुंडली में चन्द्रमा पर ग्रहण लग जाता है जिससे उस घर में रहने वालों की मानसिक शांति समाप्त हो जाती है तथा वहां धन की कमी होने लगती है।


प्लेट में जूठा न छोड़े

शास्त्रानुसार कभी भी खाने की प्लेट में जूठा नहीं छोडऩा चाहिए और न ही कभी जूठे बर्तनों को यूं ही पढ़े रहने देना चाहिए। रात को सोने से पहले सभी जूठे बर्तन धो लेने चाहिए अन्यथा इससे घर में अशांति का वातावरण बनना शुरु हो जाएगा जो अंतत: घर के दुर्भाग्य में बदल जाएगा


बिस्तर को साफ-सुथरा रखें

शास्त्रों के अनुसार बेडरूम सुव्यवस्थित तथा साफ-सुथरा होना चाहिए। खास तौर पर बिस्तर पर बिछी हुई चादर बिल्कुल साफ होनी चाहिए साथ ही कमरे में कचरा नहीं फैला होना चाहिए। ऐसा नहीं करने पर उस बिस्तर पर सोने वाले का सौभाग्य भी दुर्भाग्य में बदल जाता है।

यहां-वहां न थूकें

कहीं भी थूक देना (विशेष तौर पर घर में, देव मंदिरों में, सार्वजनिक स्थानों पर) शास्त्रों में पूरी तरह गलत बताया गया है। इससे घर की लक्ष्मी रूठ कर चली जाती है। हमें यथासंभव अपने आसपास साफ-सफाई रखनी चाहिए

सूर्यास्त के बाद झाडू-पौंछा

सूर्यास्त के बाद झाडू-पौंछा न करें। माना जाता है कि ऐसा करने से घर की सुख-शांति खत्म हो जाती है और कंगाली घर में प्रवेश कर जाती है।










सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें