Adsense responsive

मंगलवार, 9 फ़रवरी 2016

देश के ये 10 भूतिया स्थान

देश के ये 10 भूतिया स्थान जो आपकी रूह को कंपकंपा देंगें

यूं तो हमारे देश में डरावनी और भूतिया जगहों की कमी नहीं है। लेकिन इनमें भी कुछ जगहें इतनी डरावनी हैं कि वहां रात को रूकने पर डर के कारण न केवल आपकी चीखें निकल सकती हैं वरन आपकी रूह भी कांप जाती है। कई कमजोर दिल वालों की तो यहां पर मौत भी हो चुकी है। इसी वजह से सरकार ने शाम होते ही इन जगहों पर जाने से मना किया हुआ है। जानिए देश की ऎसी ही 10 सबसे डरावनी जगहों के बारे में: 

भानगढ़ किला-राजस्थान:- देश का सबसे डरा देने वाला महल है भानगढ़। स्थानीय लोगों का कहना है कि जब भी यहां मकान बनाया गया, उसकी छत गिर जाती है। आधिकारिक तौर पर यहां अंधेरा होने के बाद अंदर जाना मना है। लोगों का कहना है कि इस महल में रात में गया कोई भी व्यक्ति वापस नहीं आ पाया। 

दमास बीच-गुजरात:- एक जमाने में यह हिन्दुओं के अंतिम संस्कार की जगह हुआ करता था। माना जाता है कि लोग यहां से रहस्मयी तरीके से गायब हो जाते हैं और कभी नहीं मिलते। गुजरात के दमास बीच पर आज भी लोगों को चिल्लाने और बातें करने की अजीबोगरीब आवाजें आती हैं।

बृज राज भवन पैलेस-राजस्थान:- महल से एक हैरिटेज होटल में तब्दील कोटा का बृज राज भवन पैलेस में एक ब्रिटिश भूत के होने की कहानी डराती है। बताया जाता है कि 1857 की क्रांति मे मारा गया मेजर बुरटन रात को गार्डस को थप्पड़ मारता है।

डिसूजा चॉल-मुम्बई:- कहा जाता है कि इस चॉल में स्थित कुएं में एक महिला पानी भरते समय गिर कर मर गई। लोग कहते हैं कि तब से यह महिला कुएं के आस-पास रोज रात को आती है। हालांकि किसी को नुकसान नहीं पहुंचाती है। 

शनीवारवाडा फोर्ट-पुणे:- शनिवारवाडा फोर्ट का निर्माण मराठा साम्राज्य को बुलंद‌ियों पर ले जाने वाले बाजीराव पेशवा ने 1746 ई. में एक महल का न‌िर्माण करवाया था। स्‍थानीय लोग कहते हैं क‌ि इस महल से अब भी अमावस की रात एक दर्द भरी आवाज आती है जो बचाओ-बचाओ पुकारती है। यह आवाज उस व्यक्ति की है ज‌िसकी हत्या इस महल में कर दी गई थी। कहते हैं हत्या के बाद उसके शव को नदी में बहा द‌िया गया था।

प्रचलित कहानियों के अनुसार बाजीराव की मृत्यु के बाद राजनीत‌िक दांव-पेंच और सत्ता के लालच में 18 साल की उम्र में नारायण राव की हत्या इस महल में कर दी गई थी। कहते हैं आज भी नारायण राव अपने चाचा राघोबा को पुकारते हैं 'काका माला बचावा'। उनके चाचा राघोबा को उनका संरक्षक बनाया गया था। माना जाता है कि राघोबा पूरे शासन पर राज करना चाहते थे अतः उन्हीं के इशारे पर नारायण राव की हत्या की गई थी।

इस महल में 1828 ई. में रहस्यमय तरीके से आग लग गई और काफी हद तक महल नष्ट हो गया। परन्तु आज भी यहां आने वाले लोगों को भूतहा अनुभूतियां होती हैं विशेष तौर पर अमावस्या की रात को यहां आवाजें आती हैं। 

जीपी ब्लॉक-मेरठ:- मेरठ के जीपी ब्लॉक में कई बार चार भूत एक घर में मोमबत्ती लिए बैठे हुए और बीयर पीते देखे जा चुके हैं। लोगों ने इस घर से लाल रंग की ड्रेस पहने लड़कि यों को बाहर आते देखा है। इस दो मंजिला घर की तरफ लोगों ने जाना बंद कर दिया है।

दिल्ली केंट:- कहा जाता है कि दिल्ली केंट में सफेद लिबाज पहने एक महिला लोगों से लिफ्ट मांगती है। अगर आप आगे निकल जाते हैं तो यह महिला कार के जितना तेज भाग क र पीछा करती है।

रामोजी फिल्म सिटी-हैदराबाद:- बताया जाता है कि रामोजी फिल्म सिटी की जगह पर वर्षो पहले एक युद्ध लड़ा गया था जिसमें हजारों लोग मरे थे। बताया जाता है कि यहां लाईट अपने आप ऊपर से गिर जाती है, कपड़े अपने आप फट जाते हैं। माना जाता हे कि ये भूत लड़कियों को ज्यादा तंग करते हैं।

राज किरण होटल-मुम्बई:- लोगों का कहना है कि इस होटल के ग्राउंड फ्लोर में अजीबोगरीब बातें होती हैं। जो लोग इनमें रहने आते हैं, उन्हें आधी रात में कोई जगाता है और जब वे उठते हैं तो चमकीली नीली रोशनी पैरों पर पड़ती है। कुछ लोग उनकी बैडशीट खींचने की बाते भी बताते हैं।

स्वॉय होटल-मसूरी:- 1902 में बनी इस होटल में एक महिला का भूत देखा जाता है। गारनेट नाम की इस महिला को किसी ने जहर दे दिया था। माना जाता है कि यही महिला अपने कातिल को अब तक तलाश कर रही है। यह लोगों को परेशान नहीं करती, लेकिन इसका हाव-भाव शून्य चेहरा ही डराने के लिए काफी है।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें