Adsense responsive

सोमवार, 7 दिसंबर 2015

मध्य प्रदेश के मंडला में आसमान से बरस रहे पत्थर

मध्य प्रदेश के मंडला में आसमान से बरस रहे पत्थर


मध्य प्रदेश के मंडला जिले के फूलसागर गाँव में आसमान से पत्थर बरस रहे है। ये पत्थर घरों के छप्पर और सड़क में बरस रहे है। बड़े बड़े पत्थर बरसने से घरों के छप्पर के खपरे और सीमेंटेड सीट्स टूट गई। सड़क पर भी लोगों के आगे पीछे पत्थर गिर रहे है लेकिन किसी ग्रामीण के ऊपर ये पत्थर नहीं गिरे। पिछले 24 घंटों से पत्थर बरसने से ग्रामीण दहशत में अपने घरों से बाहर निकला गए है। ग्रामीण इसे दैवीय प्रकोप मानकर पूजा पाठ में जुट गए है।
मंडला जिले के फूलसगर गाँव के ठाकुर मोहल्ले में पिछले 24 घंटो से एक अजीब घटना घट रही है जिससे पूरा गाव दहशत में है। दरअसल ग्रामीणों का दावा है कि उनके गाव में आसमान से पत्थर बरस रहे है। ग्रामीण चन्दन मरावी, गोमती बाई आदि ने बताया कि अचानक घरों की छत पर बड़े बड़े पत्थर बरसने लगे जिससे खपरे और सीमेंटेड सीट्स टूट गई। सड़क पर भी लोगों के आगे पीछे पत्थर गिरने लगे।
शुरू में लगा की ये किसी की शरारत है ग्रामीणों ने पूरे गांव का चप्पा चप्पा छान मार लेकिन कोई नहीं मिला लेकिन पत्थर लगातार बरसते रहे। ग्रामीण अब इसे दैवीय प्रकोप समझने लगे। इस घटना से गाव के महिला पुरुष सभी दहशत में है। दहशत के साये में न वे खन्ना खा पा रहे है और न ही सो पा रहे है। यही वजह है की पूरा गाँव अपने घरों से बाहर सड़क में है।
जिला पंचायत के उपाध्यक्ष शैलेश मिश्रा भी इस घटना से सकते में है। उनका कहना है कि वे अन्धविश्वास पर यकीन नहीं करते इसलिए जैसे ही घटना का पता चला तो वो खुद गांव पहुंचे। गाँव में ग्रामीणों से बातचीत के दौरान जब उनकी आँखों के सामने अचानक बड़ा पत्थर गिरा तो उनकी आंके फटी के फटी रह गई।
इस घटना से पूरा गाँव दहशत में है और इसे दैवीय प्रकोप मानकर पूजा पाठ करा रहा है। गाँव के पंडा सिद्धू देवी देवताओ से पत्थर की बारिश बंद कराने की प्रार्थना कर रहा है। उसका कहना है कि उसने अपने जीवन में पहली बार इस तरह की घटना देखी है। उसे उम्मीद है की पूजा पाठ से दैवीय प्रकोप दूर हो जायेगा।
इस घटना से पूरा गाँव दहशत के साये में जीने को मजबूर है लेकिन अब तक इसकी शिकायत ग्रामीणों ने पुलिस या प्रशासन को नहीं की है। कोतवाली थाना प्रभारी सतीश सिंह का कहना है कि ऐसी कोई शिकायत उन्हें प्राप्त नहीं हुई है। यदि शिकायत मिलती है तो इस घटना की जांच की जाएगी यदि इसके पीछे किसी असामाजिक तत्व का हाथ पाया गया तो उनके खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें