Adsense responsive

मंगलवार, 15 दिसंबर 2015

अद्भुत तथ्यों की दुनियां - ऐसा भी होता है !!

अद्भुत तथ्यों की दुनियां - ऐसा भी होता है !!


  • वर्ष 1938 में फ्रांस में एक सूअर को बच्चे की हत्या के आरोप में फांसी पर लटकाया गया था.
  • सिर कट जाने के बाद एक कॉकरोच कई हफ्तों तक जीवित रह सकता है.
  • आमतौर पर सांप के काटने को प्राणघातक समझा जाता है लेकिन सांप के जहर से भी कई गुणा प्रभावी होता है मधुमक्खियों का डंक. सबसे हैरान कर देने वाला तथ्य यह है कि एक साल में मरने वाले अधिकांश लोग सांप के काटने से नहीं बल्कि  मधुमक्खी के जहर से मरते हैं.
  • गाय का दूध शारीरिक और मानसिक विकास के लिए बहुत जरूरी समझा जाता है लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि दुनियां में अधिकांश लोगों को गाय के दूध से ही एलर्जी होती है.
  • जो लोग उलटे हाथ से काम करते हैं उन्हें समझदार समझा जाता है लेकिन औसतन सीधे हाथ का ज्यादा उपयोग करने वाले लोग उलटे हाथ का उपयोग करने वाले लोगों से नौ साल ज्यादा जीते हैं.
  • एक औसत व्यक्ति दिन में 10 बार हंसता है.
  • जमीन पर रेंगने वाले कुछ कीड़े-मकोड़े ऐसे होते हैं जिन्हें अगर खाने को ना मिले तो वह धीरे-धीरे कर खुद को ही खा जाते हैं.
  • कुछ देर की हिचकी व्यक्ति को कितना परेशान करती है. इसे रोकने का हर संभव प्रयास किया जाता है. लेकिन चार्ल्स ऑस्बोर्न नाम के व्यक्ति को पूरे 69 वर्ष तक लगातार यह हिचकियां परेशान करती रहीं. सोचिए क्या बीती होगी उस पर!!

    • अफ्रीका महाद्वीप पर बोली जाने वाली भाषाओं की संख्या 1,000 से भी ज्यादा है.
    • ब्रिटिश राज घरानों को सफाई और सलीके का बेजोड़ उदाहरण समझा जाता है. इसी कड़ी में सबसे ऊपर नाम है एलिजाबेथ प्रथम का जिन्होंने स्वयं यह स्वीकार किया था कि वह तीन महीने में एक बार नहाती थीं.
    • आपको यह जानकर हैरानी होगी कि अंतरिक्ष में मौजूद सभी ग्रहों में एकमात्र पृथ्वी ही ऐसा ग्रह है जिसका नाम ईश्वर या किसी देवता के नाम पर नहीं पड़ा.
    • सामान्य तौर पर एक वयस्क के शरीर में 206 हड्डियां होती हैं. लेकिन जब बच्चा जन्म लेता है तो वह 300 हड्डियों का स्वामी होता है!!
    • दम घुटने के कारण व्यक्ति की मौत हो जाती है यह बात सभी जानते हैं. लेकिन अगर आप खुद अपनी सांस रोकते हैं तो आपको कुछ नहीं होगा.
    • जिस महीने की शुरूआत रविवार से होती है, उस महीने का तेरहवां दिन शुक्रवार ही होगा.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें