Adsense responsive

शुक्रवार, 18 दिसंबर 2015

दुनिया के रहस्य

दुनिया के रहस्य 


दुनियाभर में ऐसी कई जगह हैं जो रहस्यों से भरी पड़ी हैं। इन स्थानों पर जाना किसी चैलेंज से कम नहीं है। वहीं इनमें से कुछ स्थान ऐसे भी हैं जो पर्यटकों को लुभाने का काम कर रहे हैं। हालांकि, इन रहस्यमय स्थानों की वास्तविकता को जानने के लिए लंबे समय से वैज्ञानिकप्रयासरत है, लेकिन अभी भी इनके बारे में कोई ठोस जानकारी हासिल नहीं हो पाई है।
*ब्लड फॉल्स, अंटार्कटिका
अंटार्कटिका का टेलर ग्लेशियर पर जमी बर्फ में एक जगह ऐसी भी है, जहां से लाल रंग का झरना बहता है। इसे देखकर ऐसा लगता है कि इस झरने से खून बह रहा हो। हालांकि वैज्ञानिकों ने इस पर कई शोध किया लेकिन कोई नतीजा नहीं निकाल पाए। यह लाला झरना अभी भी रहस्य बना हुआ है।
*मैगनेटिक हिल, मॉन्कटन, न्यू ब्रंसविक
यह मैगनेटिक हिल अपने आप में खास है। इस हिल पर ऐसा मैगनेटिक प्रभाव है कि बिना स्टार्ट किए ही गाड़ी चलने लगती हैं। इस हिल का पता 1930 में चला था। इस जगह के रहस्य के बारे पता लगाने का काम अभी भी जारी है।
*सरट्से, आइसलैंड
आइसलैंडिक आइलैंड भी किसी रहस्य से कम नहीं है। ऐसा अनुमान है कि अचानक वेस्टमैन आइलैंड में ज्वालामुखी फटा। ज्वालामुखी फटने से जो भी गतिविधियां थी वह अंदर ही सेटल हो गई और 1967 में यहां आइलैंड के अंदर एक नया आइलैंड बन गया।
*मोराकी पत्थर, न्यूजीलैंड
साउथ आइलैंड न्यूजीलैंड के ईस्ट कोस्ट में स्थित कोईकोहे बीच पर 12-12 फीट के पत्थरों का ढेर किसी अजूबे से कम नहीं है। यह पत्थर दिखने में सीप और मोती की तरह है। हजारों सालों से यह पत्थर यहां देखेजा रहे हैं। यह पत्थर कहां से आए, इसका पता अभी तक कोई लगा पाया है।
*लोंगयेरब्येन, नॉर्वे
स्वालबार्ड, आर्कटिक सागर के ग्रीनलैंड में  नार्वे द्वीप समूह है। इस जगह के बारे में कहा जाता है कि यहां 20 अप्रैल से 23 अगस्त तक सूरज अस्त ही नहीं होता है। रात हो या दिन सूरज दिखता ही है।
*पमुक्कले, तुर्की
तुर्की के पमुक्कले में श्नो लैंडस्केप है, यहां हजारों साल पहले17 प्राकृतिक हॉट स्प्रिंग्स (झरना)से बहकर कैल्शियम कार्बोनेट जमा हुआ था। आज यहां जो झरना है इसके पानी का तापमान 37 डिग्री सेल्सियस है। पानी का तापमान हमेशा एक सा रहता है। इस पानी में कई खनिज तत्व मिले हुए हैं।
*इंटरनल फ्लेम फॉल्स, ऑर्चेड पार्क, न्यूयार्क
यहां पर एक छोटा सा झरना बहता है, जिसमें एक जलती हुई लौ दिखाई देती है। देखने वालों को आश्चर्य होता हैकि आखिर यह लौ जल कैसे रही है। शोध करने के बाद वैज्ञानिकों ने अनुमान लगाया था कि पानी में मिथेन गैस है, जिसकी वजह से ये लौ जलती है, लेकिन प्रमाण अभी भी नहीं मिले हैं।
* द डेडली ट्रायएंगल, बरमूडा
शैतानों का टापू नाम से जाना जाने वाला बरमूडा ट्रायएंगल दुनिया में सबसे रहस्मयी स्थानों में से एक है।प्यूर्टोरिको, फ्लोरिडा और बरमूडा नामक तीन स्थानों को एक-दूसरे के साथ जोड़ने वाला यह अटलांटिक महासागर, अमेरिका के दक्षिण-पूर्वी तट पर स्थित है। यहां से गुजरने वाले समुद्री जहाज और नाव अपने आप गायब हो जाते हैं। इतना ही नहीं हवाई जहाज भी इस क्षेत्र से गुजरते समय अपना रास्ता भटक जाते हैं। 4 दिसंबर, 1872 को इस ट्रायएंगल के बीचमें मैरी सेलेस्टी नाम का समुद्री जहाज पाया गया था। लेकिन इसमें कोई भी व्यक्ति नहीं था, सिर्फ लोगों का सामान बचा था। यह रहस्य अभी तक सुलझ नहीं पाया है कि जहाज पर सवार लोग  कहां गए।
* ओल्ड फेथफुल, येलोस्टोन नेशनल पार्क
दुनिया में यह मात्र एक ऐसा पार्क है, जहां पर सबसे ऊंचा गर्म पानी का झरना है। इसमें नियमित रूप से विस्फोट होता रहता है। पहला विस्फोट 1872 में हुआ था। पार्क में आने वाले लोगों के लिए यह आकर्षण का केंद्र है। यह विस्फोट कैसे होता है, यह रहस्य अभी भी बरकरार हुआ है।
*रेलैमपागो डेल काटाटूमबो, ओलोगा
वेनेजुएला के पश्चिम दक्षिण क्षेत्र के किनारे माराकैबो लेक है। इस झील के ऊपर दुनिया की सबसे तेज आवृत्ति से बिजली चमकती है। मई और अक्टूबर महीने में यह बिजली और तेजी से फ्लैश होती है। इस झील के पास से गुजरने वाले अक्सर इस नजारे को देखते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें