Adsense responsive

रविवार, 20 सितंबर 2015

Seharabandi se judi lokmanyata

सेहराबंदी से जुडी लोकमान्यता 


विवाह में हर रश्म का अपना एक महत्व होता हैं । शादी के लिए जब दूल्हा तैयार होता हैं तो उसकी सेहराबंदी करते हैं । सेहरा एक फारसी शब्द हैं। हिंदी भाषा में सेहरे को विवाह मुकुट भी कहते हैं। ऐसा माना जाता हैं कि रश्म आदिकाल में शिवजी के विवाह से चली आ रही हैं । भगवान शिव ने पार्वती के साथ सौम्य रूप धारण करके विवाह किया था। भगवान शंकर ने उस समय योगी वेश त्यागकर राजाओं जैसा श्रंगार करके जटाए खोल मुकुट धारण किया था। विवाह मुकुट पंचदेव से शुशोभित नर का श्रृंगार माना जाता हैं ।







घरेलु उपचार सम्बंधित देशी नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें