Adsense responsive

मंगलवार, 26 मई 2015

पतले कांच का गिलास गरम पानी डालने पर आसानी से क्यों चटक जाता है ?


पतले कांच का गिलास गरम पानी डालने पर 

आसानी से क्यों चटक जाता  है ?

 ऊष्मा से धातुएं आदि फैलने लगती हैं। इसमें इनका ऊष्मा के प्रति सुचालक होने का अधिक प्रभाव पड़ता है। कांच ऊष्मा का कमजोर सुचालक होता है। अतः कांच के गिलास में गर्म पानी डालने पर गिलास से ऊष्मा धीरे - धीरे बाहर आती है। पतले कांच के गिलास का कांच पतला होने से  जल्दी गरम हो जाता है , जबकि मोटे कांच के गिलास, का कांच मोटा होने से देर गरम होता है। मोटे कांच के गिलास की भीतरी सतह गरम पानी से गरम हो जाने से बढ़ने लगती है; लेकिन बाहरी परत गरम न हो पाने से बढ़ नहीं पाती। इसलिए गिलास की भीतर और बाहर की परतों के अनियमित बढ़ने से गिलास चटक जाता है और पतले कांच का गिलास एक समान गर्म होने से भीतर - बाहर एक समान बढ़ता है, अतः चटकने से बच जाता है।  



घरेलु उपचार सम्बंधित देशी नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें 











कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें