Adsense responsive

मंगलवार, 14 अप्रैल 2015

आसमान नीला क्यों दिखाई देता है ?

हमें आसमान नीला क्यों दिखाई देता है ?

               सूरज से आने वाला प्रकाश जब धरती के वायुमंडल में आता है तो यह हवा में तैर रहे धुल के कणों तथा  अणुओं से टकराता है। इस टकराहट से यह प्रकाश अनेक दिशाओं में चारों तरफ बिखर जाता है सूरज के प्रकाश में प्रकाश की तरंगें विविध लम्बाई की  होती हैं। इनमें से प्रत्येक का रंग अलग होता है। तरंग दैर्घ्य या लम्बाई से ही रंग विशेष के बिखरने की मात्रा निर्धारित होती है। प्रकाश के रंगों में से नीला और नीलालोहित रंग सबसे अधिक बिखरता है.
               इसलिए नीले प्रकाश का धरती की ओर अधिक विचलन होने लगता है और इसी नीले प्रकाश के कारण हमें आसमान नीला दिखाई देता है।















कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें